श्राद्ध- पितृपक्ष

आजकल श्राद्ध चल रहे हैं… अक्सर सवाल उठता है, ‘श्राद्ध क्यों? क्या पूर्वजों की आत्माएँ हमारे पास आयेंगी? क्या कुत्तों…

Continue Reading →

अंडमान यात्रा वृत्तांत – भाग दो

अंडमान में कुछ दिन…   अपनी अंडमान यात्रा के दूसरे दिन हम दो-तीन जगह गए, जिनमें सबसे पहले सेलुलर जेल…

Continue Reading →

अंडमान यात्रा वृत्तांत – दिवस एक

पोर्ट ब्लेयर, अंडमान में पहला दिन लंबे अरसे से अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह जाने की इच्छा थी… वहाँ के…

Continue Reading →

मनाएँ हिंदी दिवस

मनाएँ हिंदी दिवस अहो, हिंदी! पहचान के लिए भटकती हो? अपने ही घर में अपना अस्तित्व खोजती फिरती हो? अंग्रेज़ी…

Continue Reading →

शिक्षक दिवस – 5 सितंबर

  शिक्षक दिवस- मेरी समझ के कुछ बिखरे मोती…   कुछ शिक्षा पद्धति की दरकार है तो कुछ ज़माने का…

Continue Reading →