भारत गौरव गान करें

आओ, आज फिर से भारत गौरव गान करेंमातृभूमि के ऋण चुकाएँ, कुछ तो ऐसे काज करेंआज़ादी की कीमत समझें, बलिदानों…

Continue Reading →

कर्मण्येवाधिकारस्ते… आधुनिक संवाद

केरल में हथिनी की हत्या पर लीपापोती करते प्रशासन के प्रयास… केरल प्रशासन – हे माधव, यह सोचकर ही हमारे…

Continue Reading →

अब मत मनाना पर्यावरण दिवस…

*** अभी लगभग डेढ़ साल पहले की ही तो बात है, जब अवनी बाघिन को मार दिया गया था… “Save…

Continue Reading →

1983 क्रिकेट विश्व कप- कुछ यादें

1983 में कपिल देव की कप्तानी में भारत ने विश्व कप जीतकर भारतीय क्रिकेट की दुनिया में एक नया, अकल्पनीय…

Continue Reading →

हैदराबाद पुलिस

हैदराबाद पुलिस– एक चर्चा मेरी नज़र से ————————————————- “बधाई हो, हैदराबाद पुलिस ने तो कमाल कर दिया!” “कमाल? यह असंवैधानिक…

Continue Reading →

बेंगलुरु-ऊटी-मैसूर, दोस्तों के साथ…

14 – 18 सितंबरदिल्ली-बेंगलुरु-ऊटी-मैसूर-बेंगलुरु और फिर वापस दिल्ली कुछ अफ़रा तफ़री में ही प्रोग्राम बना, और हम तीन, मैं, ममता…

Continue Reading →

“एक था जंगल” कहानी (जागरण सखी)

जागरण सखी के जुलाई अंक में मेरी कहानी… “एक था जंगल… पंचतंत्र से आगे…” विषय है, पर्यावरण संरक्षण इसे मैंने…

Continue Reading →

छीन लो सारा बचपना…

दो-ढाई साल की बच्ची के साथ जहाँ इस कदर हैवानियत… कहाँ से आती है इतनी दरिंदगी? और इतनी हिम्मत?

Continue Reading →

आतंक से मुक्ति जारी…

अभिनंदन विंगकमांडर! ‘आज रह-रहकर आँखें फिर से छलकी जाती हैं! ये दुःख के नहीं, बहुत सारी ख़ुशी, और गर्व के…

Continue Reading →

दिव्य कुंभ भव्य कुंभ, प्रयाग 2019

An overwhelming trip to Prayagraj (Allahabad, UP) on the pious occasion of Kumbh, 2019.

Continue Reading →